अन्धविश्वास की भीड़

हमारे भारत देश मे सबसे ज्यादा अंधविश्वास किया जाता हैं धर्म के नाम पर जाती के नाम पर जो की सही नहीं हैं वर्तमान मे जैसे जैसे लोग शिक्षित होते जा रहे हैं वैसे ही उनमे अंधविश्वास के प्रति जागरूकता आने लगी हैं परन्तु कुछ वर्ग आज भी ऐसे है जो भगवान के नाम पर चलाये जाने वाले पाखंडो मे अपना योगदान करते है तथा व्यर्थ अपना समय एवं पैसा बर्बाद कर देते हैं परन्तु कुछ फायदा नहीं होता हैं | जब कोई स्त्री का महावही का समय होता हैं तोह उसे एक कोना दे दिया जाता हैं तथा उसे छूना अच्छा नहीं माना जाता परन्तु उसके पीछे एक कारण हैं महावही के समय जो कीटाणु होते हैं शरीर के लिए हानिकारक होते है परन्तु वर्तमान मे कई ऐसे उत्पाद बन चुके जिससे रोकथाम की जाती हैं |

man-needs-god01

कई लोग अंधविश्वासी होकर अपनी बीमारी अथवा समस्याओ के लिए कई पूजा अर्चना करवाते हैं तथा सुख समृद्धि के लिए पाखंड करने वालो के पास जाते हैं तथा अपने समय तथा धन को नष्ट करते रहते है | धर्म के नाम पर हमारे देश मे बहुत ज्यादा अंधविश्वास फैला हुआ जिससे कई लोग पैसे कमाने के लिए लोगो को डराते हैं तथा अंधविश्वास के चककर मे स्वयं का नुक्सान कर लेते हैं | वर्तमान मे भी कई ऐसे लोग हैं जो अंधविश्वास की आड़ मे गलत काम करके बहुत पैसा कमा रहे हैं तथा कितने ही नासमझ लोगो को अपने जाल मे फाँसने मे कामयाब हो जाते हैं कई लोग अंधविश्वासी होकर अपने सुलभ चल रहे जीवन को बिगाड़ लेते हैं | हमें जागरूक होना बहुत आवश्यक है तथा इस जाल मे फसने से बचे | धर्म के नाम पर चल रहे कारोबार को बढ़ावा नहीं दे सतर्क रहे | जीवन मे ऐसी कोई समस्या नहीं जिसका हल हम खुद ना निकाल सके | अपने आसपास के लोगो को भी अन्धविश्वास के प्रति जागरूक करना बहुत आवश्यक है |